Category Hierarchy

मुंबई:कैंसरकानामलेतेहीडरकेमारेरूहकांपजातीहैऔरफिरव्‍यक्तिजीवनकीआसछोड़देताहै।मगरमुंबईकेएकडॉक्‍टरनेदावाकियाहैकियदिसमयरहतेकैंसरकेबारेमेंपताचलजाएतोमात्र9दिनमेंइसकाइलाजकियाजासकताहै।मुंबईमेंकैंसरसर्जनडॉ.पंकजचतुर्वेदीनेकैंसरसेजुड़ीभ्रांतियोंकोदूरकरतेहुएकहाकिटीबीकेइलाजमें9महीनेलगतेहैं,लेकिनसमयपरकैंसरकापतालगजाए,तोइसकाउपचार9दिनमेंभीसंभवहै।एनबीटीनेटाटाअस्पतालकेकैंसररोगविशेषज्ञडॉ.पंकजचतुर्वेदीकेसाथफेसबुकलाइवपरकैंसरसेजुड़ेतमामपहलुओंपरचर्चाकी।डॉ.चतुर्वेदीनेकहा,‘इलाजकीअत्याधुनिकतकनीकोंकेबावजूदलोगोंकेमनसेकैंसरकाडरनिकलनहींरहाहै।इसीवजहसेकईबारलोगजांचकेलिएसामनेनहींआते।इसरोगकेबारेमेंजागरूकताकीकमीऔरगलतधारणाकेकारणकईबारलोगबायप्सीतकनहींकराते।वेडरतेहैंकिअगरकैंसरनहींभीहै,तोबायप्सीसेइसकेहोनेकीआशंकाबढ़सकतीहै।गांवोंमेंतोकैंसरहोनेकेबादमरीजकेबर्तनसेलेकरबिस्तरतकअलगकरदिएजातेहैं।’यूपीऔरबिहारसेहैंज्‍यादामरीजडॉ.चतुर्वेदीनेकहाकिटाटाकैंसरअस्पतालमेंइलाजकेलिएआनेवालेज्यादातरमरीजउत्तरप्रदेश,बिहार,झारखंड,औरपूर्वोत्तरइलाकोंसेहोतेहैं।कैंसरउपचारकोआसानीसेहरजगहउपलब्धकरानेकेलिएकेंद्रसरकारअगले3सालोंमें3,000बेड्सबढ़ाएगी।कैंसरमहजबीमारीनहोकरएकपारिवारिकविपदाहै।ऐसेमेंजितनीजल्दीबीमारीकापताचलजाताहै,इलाजमेंउतनीआसनीहोतीहै।’कैंसरकाउपचारकरनेमेंहिचकिचातेहैंडॉक्‍टर्सडॉ.पंकजचतुर्वेदीनेकहाकितंबाकूउत्पादोंकेइस्तेमालसेकैंसरकेमामलोंमेंबढ़ोतरीहुईहै,लेकिनइसकेइलाजकेलिएहमारेपासपर्याप्तसाधनहैं।हरमेडिकलकॉलेजमेंकैंसरकीसामान्यजांचऔरकीमोथैरपीकीव्यवस्थाकेबावजूदमरीजोंकोवहांलाभनहींमिलता।इसकाकारणडॉक्टरोंकीनीयतहै।डॉक्टरकैंसरउपचारकेलिएआगेहीनहींआतेऔरबड़ेअस्पतालोंमेंरोगियोंकीभीड़होजातीहै।