Category Hierarchy

संवादसूत्र,भंडरा(लोहरदगा):लोहरदगाजिलेकेभंडराप्रखंडमेंयूरिया-डीएपीकेदामोंमेंवृद्धिसेकिसानपरेशानहैं।भंडरामें50किलोग्रामडीएपीकेलिए600रुपएअधिककीमतपरडीएपीलेनाकिसानोंकीमजबूरीहै।इनकिसानोंकेपासदूसराकोईविकल्पभीनहींहै।जिसकेकारणकिसानज्यादाकीमतपरयूरियाखरीदकरअपनीसिरखुदसेपिटरहेहैं।साथहीयहांकेकिसानसरकारकीव्यवस्थाकोकोसरहेहै।इतनाहीनहींकिसानोंकोअनुदानितमूल्यपरखाद-बीजमुहैयाकरानेकेलिएखोलेगएलैंपसकार्यालयकाभीकिसानोंकोकोईलाभनहींमिलरहाहै।भंडराकेकुछखाददुकानोंमेंनिर्धारितमूल्यसेअधिकमूल्योंपरयूरिया-डीएपीकीबिक्रीकीजारहीहै।ऐसेमेंकिसानकाफीपरेशानहैं।इससेकिसानोंकोखेतीकरनेकेलिएखादकीचितासतारहीहै।एकमाहपूर्वएकबैगडीएपी(50किलोग्राम)1200रुपएमेंबिक्रीहोरहीथी।अबउसकामूल्य1800होगईहै।इसीतरह300रुपएमेंप्रति50किलोग्रामबिकरहीयूरियाअब500रुपयेमेंबिकरहीहै।इससेप्रखंडकेकिसानकाफीपरेशानहैं।भंडराप्रखंडक्षेत्रकेकुंबाटोलीकेकिसानएनामुलअंसारीकहतेहैकिखेतीकेलिएडीएपीकीजरूरतहै।भंडराकेखाददुकानमेंडीएपीकादाम1200रुपएबताया,जबलेनेगएतो1800रुपएबोलाजारहाहै।ऐसेमेंइतनापैसेनहींहोनेकेकारणवेअबतकखादनहींलेपाएंहैं।वहींकुंबाटोलीकेकिसानतबारकअंसारीकहतेहैकिअचानकखादकेदामोंमेंवृद्धिहोनेसेखेतीकरनेकीमंशाहीमनसेउतरगयाहै।वेकहतेहैंकिखादकेदामोंमेंगिरावटकाआसदेखरहेहैं।क्याकहतेहैंप्रखंडकेखादविक्रेता

संवादसूत्र,भंडरा(लोहरदगा):भंडराप्रखंडकेखादविक्रेताओंनेकहाकिखादकेदामोंमेंवृद्धिहोनेकाकारणसरकारकासिस्टमहै।अभीसरकारखादमेंसब्सिडीकीघोषणाकीहै,जबकि24मार्चसेखादकीआपूर्तिहीबंदथी।ऐसेमेंखाददुकानोंकोअधिककीमतपरखादकीखरीदारीकरउसेबाजारमेंबिक्रीकरनीपड़रहीहै।इसकेअलावेपहलेसब्सिडीकोछोड़करडीएपीकामूल्य1200था,परंतुअबबाजारमें1900और2100रुपयेकाडीएपीभेजाजारहाहै।इससेकिसानोंकोभीअधिककीमतचुकानीपड़रहीहै।जबसरकारकोसब्सिडीबढ़ानाहीथातोअधिकमूल्योंकेडीएपीकोभेजनेकीक्याजरूरतथी।भंडरालैंपससेभीनहींमिलरहाखाद

भंडरा(लोहरदगा):क्षेत्रकेकिसानोंकोअनुदानितदरपरखाद-बीजमुहैयाकरानेकेउद्देश्यसेखोलागयालैंपसकार्यालयकालाभस्थानीयकिसानोंकोनहींमिलरहाहै।इससेमजबूरहोकरकिसानइधर-उधरकेदुकानोंसेखादकीखरीदारीकरनेकेलिएमजबूरहैं।इसमामलेमेंप्रखंडसहकारितापदाधिकारीसंजयभगतनेकहाकिलैंपसकार्यालयमेंफंडकीकमीवलाइसेंससंबंधितकुछसमस्याहोनेकेकारणखाद-बीजकीखरीदारीनहींहुईहै।क्याकहतेहैंजिलाकृषिपदाधिकारी

भंडरा(लोहरदगा):जिलाकृषिपदाधिकारीशिवकुमाररामनेकहाकिसरकारद्वारानिर्धारितदामोंपरडीएपीकीबिक्रीनहींकरनेवालेखादव्यापारियोंपरकार्रवाईकीजाएगी।उन्होंनेकहाकिसभीदुकानोंपरमूल्यतालिकालगानेकानिर्देशदियागयाहै।खाददुकानोंमेंछापेमारीकेलिएटीमकागठनकियाजाएगा।कोईभीदुकानदारअगरसरकारीदरसेज्यादामेंखादकीबिक्रीकरतेपकड़ेजातेहैंतोउनकेविरुद्धकार्रवाईकीजाएगी।